Activity

  • JYOTI BHARTI posted an update 2 years, 4 months ago

    अगर आपसे जितने का शौक होता तो हम भी औरो की तरह हुस्न की बाजी लगाते साहब
    “दिल” की नहीं।।।
    अगर आपसे हारना मुकदर नहीं होता,
    तो किस्मत में दम हमारी भी कुछ कम नहीं।
    बस अपनी मोहब्बत सच्ची थी वरना फरेब का नकाब तो गर गली बिकता है।।
    हम अगर अहम होता तो सबसे ऊंची बोली में भी ना बिकते हम,
    हम तो तेरे “नज़रो” से कायल थे तेरे प्यार में घायल थे,
    इसलिये तो “मुफ्त” में बिकना मंजूर कर लिया हमने भी।