Poems

उनके होने से

उनके होने से ही मौसम में बहार आ जाती है
अहसास ए इश्क से रूह भी सिहर जाती है

Peace

world without peace
life full of stresses
No glow no happiness
No attention only tension
world without peace
there only fighting is mention
dishonesty, Injustice above all
No believe only noice
Shivraj, Its my voice
world without peace
Shivraj Khatik

दिल दिमाग

अपने दिल को दिमाग से हर रोज लड़ाता है,
इंसान इंसानों के बीच रहके भी फड़फड़ाता है।।

राही अंजाना

ताजमहल

कौन कहता है के हम सब कुछ पल दो पल में कर लेंगे,
हम तो मेहमाँ ही दो पल के पल दो पल में क्या कर लेंगे,

रहने दो ज्यादा से ज्यादा थोड़ा तो उथल पुथल कर लेंगे,
डूब समन्दर में जायेंगे और हम गंगा जल में घर कर लेंगे,

दिल का हाल बेहाल सुना है कहते हैं प्रेम सरल कर लेंगे,
अनपढ़ होकर लिखने वाले हम पूरी हर गज़ल कर लेंगे,

जिस दिन रेत पर चलने वाले रातों को मखमल कर लेंगे,
उसी समय से राही हम अपने सपने ताजमहल कर लेंगे,

राही अंजाना

नारी की दशा बहोत ही विचित्र सी है

नारी की दशा बहोत ही विचित्र सी है
है देवी पर क्यों अपवित्र सी है ?
है हर जीवन का स्रोत… पर
जीते जी स्वयं मृत सी है

Page 1 of 1414123»