Rakesh

Friends

  • राही अंजाना - "बिना मिले वो मुझेको इतने रंग लगा लेती है, जब भी ख़्वाबों में अपने वो मुझको बुला लेती है, यूँ तो पीने की कभी कोशिश ही नहीं की मैंने, वो आखों से ही मुझे जो इतनी पिला लेती है।। राही (अंजाना) हैप्पी होली"View
    active 52 minutes ago