Activity

  • Mithilesh Rai posted an update 1 week, 2 days ago

    कोई रोके लाख मगर सवेरा नहीं रुकता!
    सामने उजालों के अंधेरा नहीं रुकता!
    हम रोक लेंगे हिम्मत से तूफाने-सितम को,
    जुल्मों के खौफ से कभी बसेरा नहीं रुकता!

    मुक्तककार -#मिथिलेश_राय