Activity

  • Anoop posted an update 1 year, 9 months ago

    झूठ ही सही
    मगर
    कहो कुछ इस तरह
    कि मुझे सच लगे…………

    थोड़ी सी बेईमानी ही सही
    तुम करो मगर
    कुछ इस तरह
    कि मुझे हकीकत लगे………..

    धोखा ही सही, हो कभी
    मगर हो कुछ इस तरह
    कि मुझे वक्त की मार लगे………….

    प्यार हो न हो
    मगर इतराओ कुछ इस तरह
    कि मुझे दीवानापन लगे …………………
    दीवाना हो तो कुछ इस कदर
    कि कोई मुहब्बत कर ना पायें …….
    मुहब्बत करना कुछ इस तरह
    कि इजहार हो जाए
    इजहार हो तो
    कुछ इस तरह कि प्यार हो जाए…………
    प्यार हो तो कुछ इस तरह
    जिन्दगी भर
    कोई इन्कार ना हो पाये…………….

    साथ दो या ना दो
    मगर साथ हो
    कुछ इस तरह
    कि मुझे हमसफ़र लगे …………..
    ……………………..
    अनूप हसनपुरी