Sher-o-Shayari

शोक

तुम ज़िंदगी से जीते नहीं,मगर लड़े तो थे. यह बात कम नहीं कि तुम जिद पर अड़े तो थे. गम तो हमेशा रहेगा कि बचा ना सके तुम्हे, वरना हमे बचाने तुम तो वहाँ खड़े ही थे…… »

जिंदगी

जब हम साथ है तो फासलों का ज़िक्र क्यों करें डर के शागिर्द में जिंदगी बसर क्यों करे »

दिल की बातें …

कभी दिल से दिल मिलाकर तो देखो उस के लिए अपने अरमान जगाकर तो देखो जालिम आंखों से तो हर कोइ मुमुस्कुरा लेता है लेकिन कभी मोहब्बत की राहो मे आकर तो देखो जो बात खामोसी मे है वो बात लब्ज़ों में कहा दिल के अरमान की खबर सबके आंखों में कहा केह कर प्यार नहीं करते जनाब हम हमारी यह बाते आपके दिल की किताबों में कहा ना जाने क्यूँ हवाएँ आज मुझसे कुछ कह रही है तुम्हारे पास होने का एक हसीं लम्हा मुझे दे रही है वो... »

आप

ये झुकी हई आंखों से मानो सुनहरी शाम सी लगती हो ये हसीन चेहरा एक खिलता गुलाब सी लगती हो किसी की जान न ले लेना आपकी मुसकान की तलवार से हर मेहखाना का कभी न उतरने वाला शराब सी लगती हो »

भारत का कश्मीर

इक पूरा इंसान था ये सारा जहान एक हाथ काट गया बंगाल और दूसरे हाथ पाकिस्तान बिच में रह गया मेरा भारत महान कश्मीर पर हमला करके क्या करता है तू खुद पे गुमान दूध के बदले जो खीर देता वही है मेरा हिंदुस्थान »

हसीनों से

हसीनों से क्या माँगे कोई जो नज़र ही नहीं मिलाती मर मिटे उसके लिए कोई जो जहर ही नहीं पिलाती ! »

वजह

प्यार करने की कोई वजह नहीं होती दिलजलों के लिए कोई जगह नहीं होती ! »

कद्रदान

बहुत खूब लिखती हैं आप जैसे कोई कद्रदान मिला आपकी सायरी पढ़कर लगता है जैसे वरदान मिला ! »

वजह

लिखने को बहुत है पर कोई वजह तो मिले मिलने को बहुत है पर कोई जगह तो मिले ! »

Friend

Always try to be a good friend and never try to be a lover. »

Page 4 of 145«23456»