Neha, Author at Saavan's Posts

कैसे बयां करें अपनी दास्ता

कोई लफ़्जों में कैसे बयां करें अपनी दास्ता दर्द हर लफ़्ज के साथ गहराता जाता है »

स्वच्छ भारत

गंदगी से हमें नाता तोड़ना होगा स्वच्छ से अब रिश्ता जोड़्ना होगा हो गयी बहुत खातिरदारी अब गंदगी की आ इसको दरवाजा हमें दिखाना होगा| भारत की पहचान स्वच्छता से हो यही संकल्प हमें अब लेना होगा हो गया है आगाज अब देश में इसे अब अंजाम तक ले जाना होगा »