Mithilesh Rai, Author at Saavan - Page 38 of 52's Posts

मुक्तक

तेरी याद कभी कभी मुस्कान देती है! चाहत की निगाहों में तूफान देती है! टूटे हुए इरादे भी जुड़ जाते हैं सभी, जिन्द़गी को ख्वाबों का जहाँन देती है! #महादेव_की_कविताऐं’ »

मुक्तक

आज भी तेरी हर बात का असर है! आज भी तेरी मुलाकात का असर है! नींद भी आती नहीं यादों की चोट से, आज भी तेरी हर रात का असर है! #महादेव_की_कविताऐं’ »

मुक्तक

तेरी सूरत के अभी दिवाने बहुत से हैं! तेरी अदा के अभी अफसाने बहुत से हैं! तस्वीरे-अंजाम को मिटाऊँ किसतरह? जख्मों के निशान अभी पुराने बहुत से हैं! #महादेव_की_कविताऐं'(25) »

मुक्तक

तेरे बगैर मेरी तन्हा रात हुआ करती है! दर्द और तन्हाई से बात हुआ करती है! बेचैनी तड़पाती है चाहत की महादेव, आँखों से अश्कों की बरसात हुआ करती है! #महादेव_की_कविताऐं'(26) »

मुक्तक

तेरी यादों की लहर मुझको तरसाती है! तेरी चाहत की चुभन मुझको तड़पाती है! तेरा ख्याल मुझको रुलाता है महादेव, रातभर तेरी तमन्ना मुझको जलाती है! #महादेव_की_कविताऐं’ »

मुक्तक

सोचता हूँ तेरा मैं इरादा छोड़ दूँ! सोचता हूँ मंजिलों का वादा तोड़ दूँ! कबतलक देखूँ अदाओं को महादेव? हुस्न की निगाहों का इशारा मोड़ दूँ! #महादेव_की_कविताऐं’ »

मुक्तक

तेरी चाहत में तन्हा मेरी शाम है! हरवक्त ख्यालों में दर्द का पैगाम है! तेरी हसरतों से जिन्दा हूँ महादेव, तेरी यादों में हाथों में फिर जाम है! #महादेव_की_कविताऐं (23) »

मुक्तक

मैंने काश अगर तुमको पहचाना होता! मेरी भी जिन्दगी में मुस्कुराना होता! बेबसी न होती तन्हाई की महादेव, मेरा कभी मयखानों में न जाना होता! #महादेव_की_कविताऐं (24) »

मुक्तक

आपके आ जाने से फिर बहार आ गयी है! हरतरफ तेरी खुशबू खुशगवार आ गयी है! आलम भी वीरान था इरादों का महादेव, मेरी जिन्दगी फिर से एक बार आ गयी है! #महादेव_की_कविताऐं »

मुक्तक

मैंने जिन्दगी को तेरे नाम कर दी है! तेरी आरजू को सारेआम कर दी है! कोई डर नहीं है अंजाम का महादेव, हर जंग जमाने से खुलेआम कर दी है! #महादेव_की_कविताऐं »

Page 38 of 52«3637383940»