Kislay, Author at Saavan's Posts

Dilo jajbaat per nazar rakhiye

दिलो ज्जबात पर नजर रखिये गुमशुदा कुछ ना हो ये खबर रखिये दिल ना टूटे ज्जबात भी नहीं चटके दिल की दहलीज पर यूँ नजर रखिये “ »

phakat si baat hai yara

फकत सी बात हैं यारा ये आँखे बोल देती हैं छूपाना चाहता हैं तु मगर ये राजे खोल देती हैं पुरानी यादो के वो मंझर ज़मी पे पावं रखते थे बगल कि एक झोली में करो ड़ो दाव रखते थे कसक उंन बीते दिनो ठशक सी रोज देती हैं समय का दौर एेसा हैं ज़रा इसको गुजरने दो और हमारा दौर आने दो »