Anjali Gupta, Author at Saavan's Posts

मां

मां तुम मेरी सबसे अच्छी दोस्त हो सुख-दुख, खुशी-गम हर परिस्थिति में थामें हाथ बिन कुछ कहें ही समझती, मेरे दिल की हर बात मां तुम मेरे लिए ईश सम्‍य हो ।। धैर्य, संतोष व समय प्रबंधन जैसे आत्‍म व जीवन प्रबंधन के गुणों से परिपूर्ण व्‍यक्तित्‍व मां तुम तो हो मेरे सुखद भवितव्‍य का मूल प्रतिरुप, मां तुम ही मेरी एकमात्र आदर्श हो ।। तुम प्‍यार का सागर, तुम भावनाओं की निश्‍चल मूर्ती तुमने ही मुझे सिखाया गिरकर... »

जिंदगी

सोचा था जिंदगी इक पूरी किताब होगी मगर ये तो चंद लफ़्जों में ढ़लकर रह गयी| »

नये साल

नये साल का हम जशन मनायें कैसे बीता हुआ साल बार बार आकर आंखे नम कर जाता है| »

आरजू

उनके ख्यालों में हमार ख्याल हो इतनी सी आरजू है उनके लफ़्जों मे हमारा जिक्र हो इतनी सी जुस्तजू है »

क्या बतायें

क्या बतायें क्या हो गया है हमें तुम ही बताओ कि क्या बतायें हम »

रईस

कोई काली कमा के रईस हो जाता है कोई सबकुछ लुटा के रईस हो जाता है दुनिया का दस्तूर निराला है यहां तो दिल का लुटेरा भी रईस हो जाता है| »

इश्क में इन्सा को होश कहां है

कोई ये कैसे बताये, कि गम क्या है इश्क में इन्सा को होश कहां है! »

क्या छुपा के घूमते है लोग

क्या छुपा के घूमते है लोग, पता नहीं, किसी के ख्वाब, या ख्वाहिशें खबर नहीं, कुछ लम्हे दबा रखे है अपनी हथेली में या फिर जिंदगी को कर लिया है कैद »

खालिस बेमेल है जिंदगी मेरी

खालिस बेमेल है जिंदगी मेरी निखरे हुए है जज्बात मेरे लफ़्ज मेरे एकदम मासूम है मगर फिर भी धोखे देती रहती है जिंदगी »

जब जिंदगी खाली खाली सी है

कैसे लिखें इस कागज पर जब जिंदगी खाली खाली सी है स्याही है ही नहीं शब्दों को उतारने के लिए »

Page 1 of 512345