Anjali Gupta, Author at Saavan's Posts

नये साल

नये साल का हम जशन मनायें कैसे बीता हुआ साल बार बार आकर आंखे नम कर जाता है| »

आरजू

उनके ख्यालों में हमार ख्याल हो इतनी सी आरजू है उनके लफ़्जों मे हमारा जिक्र हो इतनी सी जुस्तजू है »

क्या बतायें

क्या बतायें क्या हो गया है हमें तुम ही बताओ कि क्या बतायें हम »

रईस

कोई काली कमा के रईस हो जाता है कोई सबकुछ लुटा के रईस हो जाता है दुनिया का दस्तूर निराला है यहां तो दिल का लुटेरा भी रईस हो जाता है| »

इश्क में इन्सा को होश कहां है

कोई ये कैसे बताये, कि गम क्या है इश्क में इन्सा को होश कहां है! »

क्या छुपा के घूमते है लोग

क्या छुपा के घूमते है लोग, पता नहीं, किसी के ख्वाब, या ख्वाहिशें खबर नहीं, कुछ लम्हे दबा रखे है अपनी हथेली में या फिर जिंदगी को कर लिया है कैद »

खालिस बेमेल है जिंदगी मेरी

खालिस बेमेल है जिंदगी मेरी निखरे हुए है जज्बात मेरे लफ़्ज मेरे एकदम मासूम है मगर फिर भी धोखे देती रहती है जिंदगी »

जब जिंदगी खाली खाली सी है

कैसे लिखें इस कागज पर जब जिंदगी खाली खाली सी है स्याही है ही नहीं शब्दों को उतारने के लिए »

लफ़्जों को खोल दो अपने

लफ़्जों को खोल दो अपने अरमानों को इनमें भर जाने दो दो जगह अपने दिल में मुझे इनमें मुझे अपना घर बनाने दो »

लफ़्जों को तो हम ढूढ कर ले आये हम

लफ़्जों को तो हम ढूढ कर ले आये हम अब पराये जज्बातों को कैसे बुलाये हम »

Page 1 of 512345