स्वच्छ भारत

मिलकर साथ
हाथ मिलायें
खुद जागें
और जगायें
स्वच्छ भारत अभियान
सफल बनायें।
गली मोहल्ले गंद मुक्त हो
सड़कें स्वच्छ चमके
देहरी द्वार महक उठे
ऐसा संघर्ष अभियान चलायें
स्वच्छ भारत अभियान
सफल बनायें।
स्वच्छ हो कोना कोना
मधुर लगे हर राह चलना
रौनक हो भारत में
आओ खुलकर साथ निभायें
स्वच्छ भारत अभियान
सफल बनायें।

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

11 Comments

  1. ashmita - March 8, 2018, 9:43 am

    Nice One 🙂

  2. Priya Gupta - March 8, 2018, 10:18 am

    behad hi acha pryaaas…keep it up

  3. Prince - March 8, 2018, 10:42 am

    Good thoughts, nice line…?

  4. Mukesh - March 8, 2018, 1:25 pm

    nice poem

  5. Amit - March 9, 2018, 12:06 pm

    Bhaut acchi kavita hai bhai

  6. राही अंजाना - July 31, 2018, 11:16 pm

    Waah

Leave a Reply