मुक्तक 35

समंदर तेज हो, तीखी हवा हो, पतवार छोटी हो,
अगर तुम साथ हो मेरे , परवाह कौन करता है .

…atr

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 
यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|
 
सावन का लक्ष्य है, कविता के लिए एक मंच स्थापित करना, जिस पर कविता का प्रचार व प्रसार किया जा सके और मानवता के संदेश को जन-जन तक पहुंचाया जा सके| यदि आप सावन की इस उद्देश्य में मदद करना चाहते है तो नीचे दिए विज्ञापन पर क्लिक करके हमारी आर्थिक मदद करें|

 
Profile photo of Abhishek Tripathi
Hi everyone. This is Abhishek from Varanasi.

4 Comments

  1. Profile photo of Rohan Sharma

    Rohan Sharma - April 29, 2016, 2:07 pm

    Nice

  2. Profile photo of Panna

    Panna - April 28, 2016, 10:33 pm

    bahut khoob!!

Leave a Reply