पैसा

पैसा तेरी गजब कहानी—-
पैसे के लिए बीक रही “जिस्म और जवानी”;
पैसे तेरी गजब कहानी’——-
पैसे पर मिलते एक से एक”.. सुन्दर अप्सरा”हुस्न और जवानी; पैसे तेरी गजब कहानी।
पैसे पर बीक रहे नौकरी और शिक्षाा;
पैसा तेरी——
पैसे पर बिक रही हजारो मुहँ बोली संबंध;
पैसे तेरी गजब कहानी —–
पैसे के लिए बदल गये जुबाँए और अदाएँ !
पैसे तेरी अजब गजब कहानी।।
जो दिन रात रहते थे साथ पैसे देखकर हो गये छुरी लेकर तैयार;
इस पैसे की लालच भुला दी अपनो का लार प्यार।

jyoti
mob 9123155481

Previous Poem
Next Poem
Spread the love

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

4 Comments

  1. राही अंजाना - June 21, 2018, 10:12 am

    वाह

  2. Neha - June 22, 2018, 9:55 am

    Waah

  3. ashmita - June 22, 2018, 8:04 pm

    nice

Leave a Reply