धागे-मोती

मोती को धागे से

और धागे को मोती से

जब तक होता नहीं प्यार

तब तक

उनकी नहीं बनती

कोई विशिष्ट पहचान।

 

 मोती=शब्द

 धागे=विचार

                                  कुमार बन्टी

 


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 
यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|
 

Related Posts

Talking to a friend

From Death 2 Life

From Death 2 Life

From Death 2 Life

अपने ही सूरज की रोशनी में

4 Comments

  1. Nitika Verma - March 29, 2017, 9:37 am

    nice

  2. Panna - March 29, 2017, 8:10 am

    nice

Leave a Reply