तेरे दुःख मेरा कर्ज

तेरे दुःख मेरा कर्ज

मेरे जीवन का किसान बनकर,
तूने सफलता के बीज़ बोए |
अपने सपने बेचकर तूने,
मेरे मामूली ख़्वाब संजोए |

अक्षर का शुरूआती ज्ञान￰￰ देकर
मुझे अपना शिष्य बनाया |
अपना पेट काट -काट कर ,
तूने मेरा भविष्य सजाया |

अंको का लालच बहुत था मुझे ,
रात – रात जागना होता था |
तेरी नींद अचानक खुलती ,
न चाहते हुए भी सोता था |

एक तेरा साथ रहा ,
तभी तो मेरा आज है |
पूरा श्रेय मुझे दे दिया ,
कहा , “तू ही तो मेरा नाज़ है”|

दुनिया जब भी विरोध में थी ,
तूने मेरा साथ दिया है |
किसी का भी भरोसा न था ,
उस पल तूने विश्वास किया है |

जब -जब मुझे ठोकर लगी ,
तेरी आँखे रोती थी |
टुकड़ो – टुकड़ो में मैं सोता था ,
तेरी आंखे न सोती थी ||

©moHiT


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 
यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|
 

Related Posts

2 Comments

  1. Onyiro Promise - August 1, 2017, 4:23 pm

    I am Suvo Sarkar of Emirates NBD bank. I wish to share a business proposal with you, it is in connection with your last name. Please contact me on my email at (sarkarsuvo611@gmail.com) so that i will get back to you soonest.

  2. Profile photo of Neetika sarsar

    Neetika sarsar - June 3, 2017, 2:59 pm

    Very Nice

Leave a Reply