Welcome to Saavan

कविता प्रकाशित करने के लिए यहां क्लिक करें |

1000+ Poets 4.7k Poems 8.8k Comments

सावन की गूगल प्ले से ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें |


New Poems

मुक्तक

मुक्तक

तेरी बेवफाई से कहीं मैं बदल न जाऊँ? इंतजार की ज्वाला से कहीं मैं जल न जाऊँ? मुझे दर्द डराता है हर वक्त तन्हाई में, सब्र के चट्टानों से कहीं मैं फिसल न जाऊँ? मुक्तककार- #मिथिलेश_राय »

gods spoiled child

yes i am im not the only one,im spoilt in many ways,thats because of the tree, she seduced me into eating of the fruit,said no harm will come of thee,she was decietfull now my days are shortened now if are relationship could be shortened »

मुक्तक

मुक्तक

कुछ लोग जिन्दगी में यूँ ही चले आते हैं! कुछ लोग वफाओं को यूँ ही भूल जाते हैं! कई लोग तड़पते हैं किसी की जुदाई में, कुछ किसी के दर्द पर यूँ ही मुस्कुराते हैं! मुक्तककार- #मिथिलेश_राय »

मुक्तक

मुक्तक

मैं जिन्दगी में मंजिले-मुकाम तक न पहुँचा! मैं जिन्दगी में प्यार के पयाम तक न पहुँचा! यादों की डोर से बंधा हूँ आज भी मगर, मैं अपनी चाहतों के अंजाम तक न पहुँचा! रचनाकार – #मिथिलेश_राय »

मुक्तक

मुक्तक

किसतरह तेरी यादों की रात जाएगी? किसतरह तेरे गम की सौगात जाएगी? जागे हुए हैं ख्वाब भी आँखों में कबसे, कब तेरी चाहत से मुलाकात जाएगी? मुक्तककार- #मिथिलेश_राय »

हमारा सहयोगी 

Storieo l